अपना मोबाइल कॉलर आईडी सिस्टम लॉन्च करेगी TRAI, नहीं होगी TrueCaller की जरूरत

0
14

हाइलाइट्स

Trai जल्द ही अपना कॉलर आईडी सिस्टम लेकर आएगी.
यह कॉलर आईडी सिस्टम Truecaller की जगह ले सकता है.
जानकारी के अनुसार यह सिस्टम KYC के जरिए वेरिफाइड होगा.

नई दिल्ली. टेलीकॉम रेगूलेटरी ऑथोरिटी ऑफ इंडिया (Trai) अपना मोबाइल फोन कॉलर आइडेंटिटी सिस्टम लॉन्च करेगी. यह सिस्टम KYC के जरिए वेरिफाइड होगा. Trai इस सिस्टम के अगले तीन हफ्तों में शुरू करने की योजना बना रही है. इससे यूजर्स को TrueCaller ऐप की जरूरत नहीं पड़ेगी. मिंट की रिपोर्ट के मुताबिक Trai के चेयरपर्सन पीडी वाघेला ने बुधवार को कहा कि टेलीकॉम रेगुलेटर ‘मल्टीपल स्क्रींस, एक जैसे कंटेंट’ स्टेट्स को देखते हुए नए रेगुलेशन बनाने के बारे में भी सोच रही है.

उन्होंने कहा कि Trai का कॉलर आईडी सिस्टम Truecaller की जगह ले सकता है. वाघेला ने एचडी से कहा कि ट्राई ने इस मसले का समाधान निकालने के लिए कई स्टेकहोल्डर्स से बातचीत की है. नए फीचर के अगले दो से तीन हफ्ते में लॉन्च हो जाने की उम्मीद है.

ग्राहकों को हित होंगे सुरक्षित
उन्होंने CII के बिग पिक्चर समिट अवसर पर कहा कि कनवर्जेंस टेक्नोलॉजी की नई दुनिया में हमें रेगुलेटरी रीजीम के संभावित एलाइनमेंट के बारे में विचार करना होगा. वाघेला ने आगे कहा कि इसके लिए रेगुलेटरी और लीगल फ्रेमवर्क को नए डेवलपमेंट्स के साथ तालमेल बैठाना होगा, जिससे टेकनोलॉजी का इस्तेमाल करना आसान हो जाएगा और इसके इस्तेमाल से देश के साथ-साथ ग्राहकों के हित भी सुरक्षित रहेंगे.

यह भी पढ़ें- Microsoft के 2 लैपटॉप Surface 5 और Surface Pro 9 भारत में लॉन्च, मैकबुक से है टक्कर!

एक जैसा कंटेंट
इस दौरान उन्होंने कंटेंट कनवर्जेंस को लेकर कहा कि आज टेलीविजन से लेकर स्मार्टफोंस तक सभी डिवाइस पर एक जैसा कंटेंट मिलता है. Trai प्रमुख ने आगे कहा कि इन प्लेटफॉर्म के डिस्ट्रिब्यूशन मेकानिज्म में फर्क की वजह से उन्हें रेगूलेट करने में दिकक्तों का सामना करना पड़ता है.

स्वीडिश कॉलर आइडेंटिफाइंग ऐप है Truecaller
बता दें कि ट्रूकॉलर स्वीडिश कॉलर आइडेंटिफाइंग ऐप है, जो आपके फोन पर आने वाले कॉल को आइडेंटिफाइ करती है और आपको कॉलर का नाम और लोकेशन बताती है. गौरतलब है कि इस साल मई के महीने में ट्रूकॉलर के सीईओ और फाउंडर एलेन मामेडी ने कहा था कि Trai जो कॉलर-नेम डिस्प्ले सिस्टम बनाना चाहता है, वह ट्रूकॉलर से मुकाबला नहीं कर पाएगा.

Tags: Apps, Tech news, Tech News in hindi, True caller