कांग्रेस ने हिमाचल प्रदेश में कर्मचारियों की बैलेट से कम वोटिंग पर जताया संदेह, चुनाव आयोग से करेगी शिकायत

0
10

सोलन. हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में बैलेट पेपर से अभी भी वोटिंग हो रही है. कांग्रेस ने कर्मचारियों के बैलेट पेपर से कम वोटिंग पर संदेह जताया है. पार्टी का आरोप है कि कई कर्मयारियों को बैलेट पेपर नहीं मिले. कांग्रेस के प्रदेश सचिव एडवोकेट रोहित शर्मा ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव में करीब 1.27 लाख कर्मचारियों की चुनाव में ड्यूटी लगी, लेकिन इनमें 24 नवंबर तक करीब 38 हजार कर्मचारियों ने ही वोट किया है. उन्होंने कहा कि इतनी कम वोटिंग होना संदेहास्पद है. उन्होंने कहा कि कई कर्मचारियों को आवेदन करने के बावजूद बेलेट पेपर नहीं मिल पाए. इसे लेकर चुनाव आयोग से शिकायत करेंगे.

शुक्रवार को सोलन में पत्रकारों से बातचीत में प्रदेश कांग्रेस सचिव एडवोकेट रोहित शर्मा ने कहा कि ऐसी सूचनाएं मिल रही हैं कि पिछले विधानसभा चुनाव में करीब 18 ऐसी विधानसभा सीटें थीं जिन में जीत-हार का अंतर 2 हजार से कम मतों में हुआ था. जिन कर्मचारियों की चुनाव करवाने की ड्यूटी लगी है उनको वोट डालने के लिये EDC यानी इलेक्शन डयूटी सर्टिफिकेट जारी किया जाता है. जिसका फॉर्म नंबर-12 भरकर आवेदन करना था. इसकी अंतिम तिथि 7 नवंबर 2022 तय की गई थी, परन्तु हैरानी की बात ये है जिन्होंने आवेदन किया उनमें से भी कई कर्मचारियों को आजतक बेलट पेपर नहीं मिल पाए हैं.

उन्होंने कहा कि चुनाव रिहर्सल में कर्मचारियों को गाइड करने की कोई सुविधा उपलब्ध नहीं करवाई गई. फॉर्म 12 में कर्मचारियों के फोन नंबर भी दर्ज किए गए थे फिर भी ऐसा होना सन्देहास्पद है. उन्होंने कहा कि पोस्ट ऑफिस में बैलट पेपर जमा करवाने पर रीसिविंग नही दी जा रही. बहुत सारे कर्मचारियों जो कि मुख्यता पुलिस एवं शिक्षा विभाग से है उनकी डयूटी चुनाव से पहले अंतिम समय पर पोलिंग बूथ पर लगाई गई जिससे वे फॉर्म 12 प्राप्त नहीं कर पाए और और वे वोट देने से वंचित रह गए. उन्होंने कहा कि इसके पीछे कोई साजिश तो नहीं जिससे सरकारी कर्मचारी वोट न दे सकें. उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को तुरंत इस पर संज्ञान लेना चाहिए एवं इसपर स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए.

आपके शहर से (शिमला)

हिमाचल प्रदेश

हिमाचल प्रदेश

वहीं, इस मामले को लेकर डीसी सोलन जिला निर्वाचन अधिकारी कृतिका कुलहरी ने कहा है कि आवेदन करने वाले सभी कर्मचारियों को बेल्ट पेपर उपलब्ध करवाए गए हैं. उन्होंने कहा कि अभी वोटिंग के लिए समय और कर्मचारियों के पेपर भी आ रहे हैं. बहरहाल, कांग्रेस के आरोपों पर अब चुनाव आयोग क्या कार्रवाई करता है यह देखना दिलचस्प रहेगा.

Tags: Himachal Congress, Himachal election, Himachal news