क्या होते हैं ओवर हीटिंग के नुकसान और गर्म होने पर लैपटॉप को कैसे करें कूल डाउन? जानिए सबकुछ

0
21

हाइलाइट्स

लैपटॉप या कंप्यूटर का लगातार यूज करने पर वे गर्म हो जाते हैं.
इस ओवर हीटिंग से आपके डिवाइस को नुकसान हो सकता है.
हालांकि कुछ टिप्स अपना कर आप इन्हें हीटिंग से बचा सकते हैं.

नई दिल्ली. आज के समय में लगभग सभी कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं. आज लोग पूरा-पूरा दिन लैपटॉप पर काम करते हैं. इसके चलते कई बार कंप्यूटर में दिक्कत आने लगती है और आपका कंप्यूटर या लैपटॉप गर्म होने लगता है. इस ओवरहीटिंग के कारण आपके डिवाइस के खराब होने की संभावना काफी बढ़ जाती है. अगर आपको लगता है कि आपका कंप्यूटर गर्म हो रहा है और आप इसे लेकर चिंतित हैं तो आपकी इस चिंता को दूर करने के लिए हम कुछ तरीके लाए हैं.

इन तरीकों से आप अपने कंप्यूटर को ठंडा कर सकते हैं. इन टिप्स को अपनाकर आप अपने लैपटॉप को ओवर हीटिंग से बचा सकते है और इससे अपने कंप्यूटर और लैपटॉप को होने वाले नुकसान से बचा सकते हैं.

शट डाउन करें डिवाइस
अगर आप लगातार कंप्यूटर या लैपटॉप का लगातार इस्तेमाल करते हैं, तो हो सकता है कि वे गर्म हो जाएं. ऐसे में कंप्यूटर और लैपटॉप को ठंडा करने का सबसे आसान और सबसे विश्वसनीय तरीका है कि आप इसे पूरी तरह से बंद कर दें.

यह भी पढ़ें- क्या बार-बार गर्म हो रहा है आपका iPhone? अब झटपट ठंडा करें डिवाइस, फॉले करें ये टिप्स

कंप्यूटर के वेंट को ब्लॉक न करें-
यह तो हम सभी जानते हैं कि आपके कंप्यूटर के अंदर फैन लगा होता है, जो इसे ठंडा रखने में मदद करता हैं. जब इन फैन के वेंट बंद हो जाते हैं तो हवा ठीक से पास नहीं हो पाती है जिससे आपका कंप्यूटर गर्म हो जाता है. इसलिए सबसे पहले यह सुनिश्चित करें कि आपके कंप्यूटर के वेंट के चारों ओर खाली स्पेस हो.

लैपटॉप कूलिंग पैड का इस्तेमाल करें
अगर आपके लैपटॉप में भी हीटिंग की समस्या है, तो आप इस परेशानी से बचने के लिए एक कूलिंग पैड खरीद सकते हैं. यह आपके लैपटॉप के लिए एक्सटर्नल फैन की तरह काम करता है. हालांकि, लैपटॉप कूलिंग पैड आपके कंप्यूटर के बाहरी हिस्से को ठंडा कर सकते हैं, लेकिन ये कंप्यूटर के इंटरनल हीट सोर्सेज पर उतना प्रभाव नहीं डालते हैं.

यह भी पढ़ें- एंड्रॉयड डिवाइस पर डिलीट मैसेज कैसे रिकवर करें और क्यों जरूरी है गूगल बैकअप, जानिए

कंप्यूटर की CPU लिमिट बढ़ाने वाले प्रोग्राम यूज न करें
आपका कंप्यूटरऐसे प्रोग्राम चला रहा होता है जो आपको CPU का इस्तेमाल करते हैं और इसके इंटरनल कंपोनेंट्स को ओवरड्राइव में काम करने के लिए फोर्स करते हैं. ऐसे में आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि ऐसे प्रोग्राम का इस्तेमाल करने से बचें जो आपके कंप्यूटर की CPU लिमिट को बढ़ा देते हैं.

डिवाइस की सेटिंग बदलें
इसके अलावा कंप्यूटर की सेटिंग्स में बदलाव करके भी कई बार उसे गर्म होने से बचाया जा सकता है. अपने स्पेसिफिक कंप्यूटर मॉडल और हाई-परफॉर्मेंस के लिए इसकी बेस्ट सेटिंग्स पर रिसर्च करें और पता लगाएं कि लैपटॉप को गर्म होने से बचाने के लिए क्या सही रहेगा. इन सेटिंग्स को एडज्सट करने से आपके कंप्यूटर के इंटरनल कंपोनेंट्स पर दबाव कम हो सकता है और ओवरहीटिंग कम हो सकती है.

Tags: Tech news, Tech News in hindi, Technology, Tips and Tricks