जयपुर एयरपोर्ट के आए अच्छे दिन: 4 साल बाद बढ़ा यात्री भार, जल्द शुरू होगी बैंकाक के लिए फ्लाइट

0
16

हाइलाइट्स

जयपुर एयरपोर्ट पर अक्टूबर महीने में यात्रियों में 12 फीसदी यात्रियों की हुई बढ़ोतरी
पिछले माह 3,72,720 यात्रियों ने यात्रा की, जिसमें 34,089 अंतरराष्ट्रीय यात्री शामिल

जयपुर. एक मुद्दत के बाद जयपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Jaipur International airport) ने राहत की सांस ली है. कोविड काल (Covid period) से लड़खड़ाया जयपुर एयरपोर्ट संभलने का नाम ही नहीं ले रहा था और यात्रीभार लगातार गिरता जा रहा था, लेकिन अक्टूबर महीने में बढ़े हुए यात्रीभार (Passenger Load) ने हालात को बहुत संभाल लिया है. हालांकि यात्रियों में इजाफा सिर्फ 12 फीसदी हुआ है, लेकिन एयरपोर्ट के लिहाज से इसे अच्छा संकेत माना जा सकता है. कोविड काल के खत्म होने और राजस्थान का पर्यटन सीजन शुरू होने के कारण जयपुर एयरपोर्ट पर यात्री भार बढ़ रहा है. अक्टूबर महीने में प्रतिदिन औसत 12,023 यात्रियों ने इस एयरपोर्ट से यात्रा की है.

एएआई के आंकड़ों में जयपुर एयरपोर्ट लगातार फिसलता जा रहा था. खासतौर पर यात्रीभार और फ्लाइट कम होने के मामले में जयपुर एयरपोर्ट 13 नंबर पर पहुंच चुका है. हर महीने जारी होने वाले आंकड़े जयपुर एयरपोर्ट को लगातार निराश कर रहे थे, लेकिन अक्टूबर महीने के आंकड़ों से एयरपोर्ट को उम्मीद बंधी है. अक्टूबर महीने में जयपुर एयरपोर्ट पर यात्रीभार में 12 प्रतिशत बढ़ोत्तरी हुई है.

लिव-इन में रह रही महिला ने संपत्ति के लिए प्रेमी सहित छह लोगों को दिया जहर, एक की मौत

बैंकाक के लिए रोजाना नई फ्लाइट शुरू होगी
निजी हाथों में जाने के बाद जयपुर एयरपोर्ट के आंकड़ों में ये पहला सुधार देखने को मिला है और माना जा रहा है कि अगर आंकड़े अगले महीने गड़बड़ाए नहीं तो यात्रीभार 50 फीसदी तक बढ़ सकता है. इसी से उत्साहित जयपुर एयरपोर्ट जनवरी में बैंकाक के लिए एक नई फ्लाइट शुरू करने जा रहा है. थाई स्माइल एयरलाइन इस नई फ्लाइट WE-343/344 की 5 जनवरी 2023 से हो शुरुआत कर सकती है. जयपुर से बैंकॉक के लिए रोजाना संचालित होने वाली यह फ्लाइट मध्यरात्रि में बैंकॉक के लिए चलेगी. बैंकॉक से फ्लाइट रात 9:15 बजे जयपुर एयरपोर्ट पहुंचेगी. अभी एयर एशिया की सप्ताह में 4 दिन फ्लाइट बैंकॉक जाती है.

अक्टूबर में 12 प्रतिशत की वृद्धि अच्छे संकेत
घरेलू उड़ानों को छोड़ दिया जाए तो जयपुर एयरपोर्ट से अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों में यात्रीभार की कोई कमी नहीं है. मिडिल ईस्ट और बैंकाक के लिए चलने वाली एयरलाइन्स में यात्री सीट टू सीट जाते हैं, लेकिन जयपुर एयरपोर्ट पर घरेलू उड़ानों में अभी भी यात्रियों की संख्या कम रहती है. जिसकी वजह से अक्सर एयरलाइन्स को अपनी फ्लाइट रद्द करनी पड़ती है. फिलहाल 12 फीसदी बढ़ोतरी के साथ अच्छे संकेतों की शुरूआत हुई है, लेकिन नवंबर महीने के आंकड़ों से साफ हो पायेगा कि ये बढ़ोतरी बनी रहती है या कम होती है.

Tags: Airports, Jaipur Airport, Jaipur news, Rajasthan news in hindi, Tourists