दारोगा को आशिकी की पड़ी महंगी, परिवारवालों ने धर दबोचा और प्रेमिका से करवा दी शादी, जानें पूरा मामला

0
13

हाइलाइट्स

प्रेमिका के परिवारवालों ने पुलिसकर्मी को पकड़कर युवती से शादी कराई.
पुलिसकर्मी सुमंत शर्मा और उसकी प्रेमिका छोटी पहले से ही शादीशुदा है.
लोगों के दबाव के बाद दारोगा को प्रेमिका की मांग में सिंदूर डालना पड़ा.

बेगूसराय. शराब के नशे में धुत एक पुलिसकर्मी को आशिकी करनी महंगी पड़ गई. दरअसल, प्रेमिका के परिवार के लोगों ने पुलिसकर्मी को धर दबोचा और उसकी शादी प्रेमिका से करा दी. इस दौरान पहले तो पुलिसकर्मी ना नुकर करता रहा; मगर लोगों के दबाव के बाद उसे अपनी प्रेमिका की मांग में सिंदूर डालना पड़ा. घटना भगवानपुर थाना क्षेत्र के बनहरा गांव की है. मामला सामने आने के बाद हर तरफ इसकी चर्चा हो रही है.

बता दें कि पुलिसकर्मी सुमंत शर्मा और उसकी प्रेमिका छोटी पहले से ही शादीशुदा है. इन दोनों का काफी अर्से से एक दूसरे के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था. छोटी कुमारी के अनुसार, सुमंत ने उनसे काली मंदिर मे शादी रचाई थी, लेकिन इस शादी में परिजनों को नहीं बुलाया गया था. इसलिए उनके पास कोई प्रमाण नहीं है, लेकिन वो एक दूसरे के साथ पति पत्नी की तरह रहते हैं. छोटी का आरोप है कि उन्होंने सामाजिक स्तर पर मुझे अपनी पत्नी के रूप में स्वीकार नहीं किया, जिसके लिए वो सुमंत पर दबाव बनाती थी. लेकिन, वो इससे इंकार करता था. छोटी का आरोप है की सुमंत ना सिर्फ शादी से इंकार करता था; बल्कि उनके बच्चों को अक्सर मारता पीटता था.

पटना: ‘जान दे देंगे पर जमीन-मकान नहीं देंगे’ मेट्रो यार्ड निर्माण को लेकर लोगों में आक्रोश!

छोटी की बहन बताती है कि उनकी छोटी बहन का प्रेम प्रसंग सुमंत शर्मा के साथ उस वक्त हुआ था जब उनकी छोटी बहन बनहारा गांव में उनके साथ रहने के लिए आई थी. इसी बीच लगातार गश्ती में आने और एक रेप केस के सिलसिले में उनकी बहन से मुलाकात सुमंत शर्मा से हुई थी. इसके बाद दोनों के बीच प्रेम परवान चढ़ता गया. इस बीच सुमंत लगातार उनके घर पर आना-जाना करने लगा.

बहन ने बताया कि उनका परिवार गुवाहाटी में रहता है. सुमंत के घर आने-जाने की जानकारी, उन लोगों को गांव के लोगों से मिली थी, लेकिन लोग इसे दोस्ती मानकर चल रहे थे. इस बीच उत्पाद अधीक्षक अविनाश प्रकाश ने बताया कि आरोपी सुमंत शर्मा जिला पुलिस के जवान हैं और वर्तमान में प्रतिनियुक्ति (deputation) पर वह उत्पाद विभाग में काम कर रहे हैं. वहीं, यह मामला सामने आने के बाद उत्पाद अधीक्षक अविनाश प्रकाश ने जांच के बाद कार्रवाई की बात कही है.

उक्त दारोगा पर सबसे शर्मनाक आरोप यह है कि एक तरफ जहां उसने अपने वर्दी का धौंस दिखाकर महिला के साथ महीनों तक यौन शोषण किया वहीं, महिला के पूर्व परिवार को भी बिखेरकर रख दिया. साथ ही साथ उक्त दरोगा पर महिला के नाबालिग बच्चों पर लात घूसे से पिटाई का भी आरोप लग रहा है. हालांकि, मामला संज्ञान में आने के बाद विभाग ने जांच के बाद कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.

Tags: Begusarai Crime News, Begusarai news, Bihar News, Bihar police, Crime In Bihar