पीली शिमला मिर्च ब्लड प्रेशर, कोलेस्ट्रॉल से लेकर वजन भी करे कंट्रोल, खाएंगे नियमित तो होंगे कई अन्य फायदे

0
17

हाइलाइट्स

पीली शिमला मिर्च खाने से इम्यूनिटी बूस्ट होती है.
ये सब्जी झुर्रियों, महीन रेखाओं के साथ-साथ उम्र बढ़ने के लक्षणों को भी कम करती है.

Benefits of Yellow Bell Pepper: शिमला मिर्च में सबसे ज्यादा लोग हरी शिमला मिर्च का ही सेवन करते हैं. यहां तक कि लाल या पीली शिमला मिर्च की तुलना में हरी शिमला मिर्च सब्जी मार्केट में अधिक नज़र आती है. हालांकि, पीली शिमला मिर्च भी सेहत के लिए काफी हेल्दी होती है. पीले रंग की शिमला मिर्च खाना इसलिए भी फायदेमंद है, क्योंकि रंग-बिरंगे फूड्स का आप जितना सेवन करेंगे, सेहत को उतने ही लाभ प्राप्त होंगे. पीली शिमला मिर्च में मौजूद पोषक तत्वों की बात करें तो इसमें कई तरह के विटामिंस और मिनरल्स होते हैं, जो शरीर के फंक्शन को सही तरीके से बनाए रखने के लिए ज़रूरी होते हैं. आइए जानते हैं पीली शिमला मिर्च खाने के फायदे क्या हैं.

पीली शिमला मिर्च में पोषक तत्व

स्टाइल्सएटलाइफ डॉट कॉम में छपी एक खबर के अनुसार, पीली शिमला मिर्च को मिट्टी के पीएच से अपना चमकीला पिगमेंट प्राप्त होता है. मूल रूप से यह एक पकी हुई हरी मिर्च होती है. पीली शिमला मिर्च स्वाद में हल्की मीठी होती है. यह जल्दी पक भी जाती है. इसे आप सब्जी, सूप, पिज्जा टॉपिंग्स आदि में इस्तेमाल कर सकते हैं. पीली शिमला मिर्च में कई तरह के पोषक तत्व मौजूद होते हैं जैसे यह विटामिन सी का मुख्य स्रोत है, जो इम्यूनिटी को बूस्ट करता है. साथ ही इसमें फोलेट, मैग्नीशियम, कॉपर, कार्बोहाइड्रेट्स, कैल्शियम, पोटैशियम, फॉस्फोरस आदि भी होते हैं, जो इसे एक बेहद ही हेल्दी सब्जी बनाते हैं.

इसे भी पढ़ें: Capsicum Benefits: डाइट में शामिल करें शिमला मिर्च, एक नहीं मिलेंगे ढ़ेर सारे फायदे

पीली शिमला मिर्च खाने के फायदे

1.पीली शिमला मिर्च में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स शरीर को नुकसान पहुंचाने वाले फ्री रैडिकल्स से लड़ता है. फ्री रैडिकल्स कोशिकाओं को डैमेज करता है, जिससे कई तरह की शारीरिक और त्वचा संबंधित समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं. वास्तव में ये फ्री रैडिकल्स कैंसर का भी कारण बनते हैं. प्रतिदिन आप पीली शिमला मिर्च का सेवन करेंगे तो फ्री रैडिकल्स को शरीर से बाहर निकालने में मदद मिलेगी.

2. शरीर से बेकार, व्यर्थ, टॉक्सिन, गंदगी और हानिकारक फ्लूइड्स आदि को बाहर निकलाने में कारगर है पीली शिमला मिर्च. ऐसा इसलिए संभव है, क्योंकि इसमें अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स और डायटरी फाइबर होते हैं. यह सब्जी एक नेचुरल बॉडी क्लिंजर की तरह काम करती है.

3. यदि आपको पाचन संबंधित समस्याएं रहती हैं तो आप हरी, लाल शिमला मिर्च के साथ ही पीली शिमला मिर्च का भी सेवन अवश्य करें. चूंकि, इसमें फाइबर होता है, जो पेट को साफ रखने में मदद करता है. डाइजेस्टिव सिस्टम और बाउल मूवमेंट को रेगुलेट करता है. इसके सेवन से आप भोजन को आसानी से पचाने के साथ ही एब्जॉर्ब भी कर सकते हैं.

4. चूंकि, इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स होता है, जो शरीर में हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल या एलडीएल को कम करने में मदद करता है. इससे हृदय रोग होने का खतरा कम हो जाता है. आपका दिल लंबी उम्र तक हेल्दी और फिट रह सकता है. पीली शिमला मिर्च में फैट और कैलोरी काफी कम होती है. यह न्यूट्रिएंट्स से भरपूर सब्जी है, जो कोलेस्ट्रॉल लेवल को सही रखती है.

इसे भी पढ़ें: अमेरिका से आई तो फिर शिमला मिर्च नाम क्यों पड़ा? जानें गुणों से भरपूर इस ‘फल’ से जुड़ी दिलचस्प बातें

5. यदि आपको अपना वजन मेंटेन रखना है तो भी आप पीली शिमला मिर्च का सेवन कर सकते हैं. जैसा कि हम बता चुके हैं कि इसमें फैट और कैलोरी कम होती है और डायटरी फाइबर अधिक तो इसके सेवन से आपका पेट देर तक भरा रहता है. इस तरह से आप एक्स्ट्रा कैलोरी के सेवन से बचे रहते हैं. इस तरह से आप कम अनहेल्दी चीज़ों का सेवन करते हैं और वजन को कंट्रोल कर पाने में मदद मिलती है.

6. पोटैशियम इसमें अधिक होता है और सोडियम कम. ऐसे में पीली शिमला मिर्च का सेवन ब्लड प्रेशर को भी दुरुस्त रखता है. इसके सेवन से रक्त वाहिकाओं को आराम मिलता है, रक्त प्रवाह सही तरीके से होता रहता है. ये सब्जी उच्च रक्तचाप को कम करने के साथ-साथ इसे हमेशा प्रॉपर बैलेंस में बनाए रखने में भी मदद करती है.

7. बालों के स्वास्थ्य के लिए एंटीऑक्सीडेंट बेहद जरूरी होता है. बालों के फॉलिकल्स को सक्रिय करने और स्कैल्प को स्वस्थ रखने के लिए प्रतिदिन पीली शिमला मिर्च का सेवन करना चाहिए. यह बालों की सभी समस्याओं को दूर कर सकती है, साथ ही बालों के विकास को बढ़ावा भी देती है.

8. पीली शिमला मिर्च में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट त्वचा को भी हेल्दी रखता है. यह झुर्रियों और महीन रेखाओं के साथ-साथ उम्र बढ़ने के सभी लक्षणों को कम करता है. नियमित रूप से पीली मिर्च खाने से त्वचा को सूरज की हानिकारक यूवी किरणों से क्षतिग्रस्त होने से भी बचाया जा सकता है. कोशिकाओं की क्षति को भी रोका जा सकता है. इसका सेवन नियमित रूप से करने से त्वचा को फ्लॉलेस, जवां, तरोताजा और हेल्दी बनाए रख सकते हैं.

9. पीली मिर्च में विटामिन सी मौजूद होता है. ये विटामिन संक्रमण पैदा करने वाले रोगाणुओं से लड़ने और शरीर को सर्दी, खांसी और गले में खराश आदि जैसे सामान्य संक्रमणों से बचाने के लिए जाना जाता है. इसके सेवन से रोग प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत बनी रहती है. ऐसे में आप भोजन में हरी, लाल शिमला मिर्च के साथ ही पीली शिमला मिर्च को शामिल करना ना भूलें.

Tags: Health, Healthy food, Lifestyle