हिमाचल प्रदेश: पीएम मोदी ने मंडी के शिल्पकार की बनाई ’करनाल’ स्पेन के पीएम को भेंट की

0
20

हाइलाइट्स

जी-20 सम्मेलन में भारत के पीएम मोदी ने स्पेन के पीएम पेड्रो सांचेज को हिमाचली ‘करनाल’ भेंट की.
‘करनाल’ का निर्माण मंडी जिला के सराज विधानसभा क्षेत्र के थाची गांव निवासी बीरी सिंह ने किया है.

मंडी. इंडोनेशिया के बाली में आयोजित जी-20 सम्मेलन में भाग लेने गए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्पेन के प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज को हिमाचली देव संस्कृति में इस्तेमाल होने वाले ’करनाल’ की जोड़ी भेंट दी है. भेंट स्वरूप दिए गए ‘करनाल’ का निर्माण मंडी जिला के सराज विधानसभा क्षेत्र के थाची गांव निवासी बीरी सिंह ने किया है. बीरी सिंह ने बताया कि उन्हें इस बात की बहुत ज्यादा खुशी है कि उनके द्वारा बनाए गए करनाल को प्रधानमंत्री ने विदेशी भूमि पर स्पेन के प्रधानमंत्री को भेंट स्वरूप दिया है.

बीरी सिंह ने बताया कि प्रधानमंत्री जब भी हिमाचल आते हैं तो अधिकतर उनके द्वारा बनाए गए उत्पादों को ही प्रधानमंत्री को भेंट स्वरूप दिया जाता है. इन्वेस्टर मीट के दौरान जितने भी विदेशी मेहमान धर्मशाला आए थे, उन सभी को देवरथ बीरी सिंह ही बनाकर दी थी. वहीं, कुल्लू दशहरे में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को जो राम दरबार भेंट स्वरूप दिया गया था, उसका निर्माण भी इन्होंने ही किया था.

स्पेन के पीएम को भेंट में दी गई करनाल की जोड़ी का निर्माण इन्होंने 15 दिनों में किया था. इसे पीतल से बनाया गया है. बीरी सिंह का परिवार इस पारंपरिक कार्य को बीते पांच पीढ़ीयों से करता आ रहा है. यह परिवार पीढ़ी दर पीढ़ी इस कारोबार को लगातार आगे बढ़ाता जा रहा है. बीरी सिंह ने यह काम अपने पिता से सीखा है. हालांकि, मंडी और कुल्लू जिलों में और भी बहुत से लोग इस धातु शिल्पकारी में जुटे हुए हैं.

बीरी सिंह बताते हैं कि पहले वे सिर्फ देवी-देवताओं के लिए इन उत्पादों का निर्माण करते थे, लेकिन पिछले कुछ समय से इन उत्पादों को भेंट स्वरूप देने और घर की साज सज्जा के लिए काफी ज्यादा इस्तेमाल किया जाने लगा है. इससे इनके कारोबार में भी इजाफा हुआ है और इन उत्पादों की काफी ज्यादा मांग बढ़ गई है. दूसरे प्रदेशों में भी इनकी प्रदर्शनी लगाने का मौका मिल रहा है जिससे बहुत से लोगों को इनके बारे में पता चल पा रहा है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

FIRST PUBLISHED : November 17, 2022, 17:28 IST