18 साल बाद एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन की मेजबानी करेगा जयपुर, 3000 कार्यकर्ता लेंगे भाग

0
25

हाइलाइट्स

25 से 27 नवंबर तक पिंक सिटी जयपुर एबीवीपी के रंग में रंगने वाला है.
18 साल बाद फिर जयपुर को ABVP के राष्ट्रीय अधिवेशन की जिम्मेदारी.
इस अधिवेशन में 3000 से अधिक कार्यकर्ताओं के भाग लेने की संभावना.

जयपुर. राजस्थान को 18 साल बाद एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन की मेजबानी मिली है. राजधानी जयपुर की जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में 25 से 27 नवंबर तक आयोजित होने वाले इस अधिवेशन में देशभर से 3 हजार से ज्यादा एबीवीपी के कार्यकर्ता भाग लेंगे. वहीं, आयोजन स्थल पर महाराणा प्रताप की मूर्ति लगाई जाएगी.

राष्ट्रीय अधिवेशन को लेकर शुक्रवार को पिंक सिटी प्रेस कल्ब में प्रेस वार्ता आयोजित हुई. इसमें स्वागत समिति का ऐलान करते हुए पदाधिकारियों ने ओपी अग्रवाल को स्वागत समिति का अध्यक्ष और विष्णु चेतानी को स्वागत समिति का सचिव घोषित किया. ओपी अग्रवाल ने बताया कि अधिवेशन में छात्रों से जुड़े मुद्दों पर चर्चा होगी जिसमें 5 अहम प्रस्ताव पारित किए जाएंगे.

उद्योगों की आज की जरूरत के लिए डिप्लोमा कोर्स शुरू करने जा रहा राजस्थान, युवाओं को मिलेगा रोजगार

जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी आयोजित होने वाले एबीवीपी के 68वें राष्ट्रीय अधिवेशन में राजस्थान की संस्कृति की झलक दिखेगी. आयोजन स्थल पर महाराणा प्रताप की मूर्ति लगाई जाएगी, जो कि अधिवेशन में आकर्षण का केंद्र रहेगी. साथ ही छात्रों से देश की संस्कृति से जोड़ने वाली एक प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी जिसमें 3 हजार से ज्यादा छात्र छात्राए पहुंचेगे और प्रदर्शनी देखेंगे. अ धिवेशन में छात्रों की समस्याएं, नई शिक्षा नीति, छात्रों के बेहतर कामकाज समेत अन्य मसलों पर चर्चा होगी.

एबीवीपी के राष्ट्रीय मंत्री होशयार मीणा ने बताया कि अधिवेशन प्लास्टिक मुक्त पर्यावरण शुद्ध की थीम पर होगा. अधिवेशन में किसी भी प्रकार से प्लास्टिक उपयोग में नहीं लिया जाएगा इसके साथ ही पर्यावरण को शुद्ध बनाने और प्लास्टिक को दैनिक जीवन से मुक्त बनाने का संकल्प लिया जाएगा.

Tags: Jaipur news, Rajasthan news