Bharatpur: पहाड़ी क्षेत्रों में लगने लगे स्वाद से भरे झाड़बेर, ग्रामीणों के लिए बने आमदनी का जरिया

0
12

भरतपुर. सर्दी का मौसम शुरू हो चुका है. इस मौसम में कई स्वादिष्ट और सेहत से भरपूर फल बाजार में आने लगते हैं. ऐसे ही स्वादिष्ट फलों में से एक है झाड़बेर. अपने खट्टे-मीठे स्वाद की वजह से यह फल खाने में स्वाद देता है. साथ ही सेहत के लिए भी यह लाभदायक है. राजस्थान के भरतपुर जिले के पहाड़ी क्षेत्रों में इस समय बड़ी तादाद में झाड़बेर लगने के साथ साथ स्थानीय निवासियों के लिए आमदनी का जरिया बने हुए हैं. स्थानीय जानकर हेम सिंह कुशवाहा ने बताया कि बंसी पहाड़पुर व बंध बारैठा के बीच स्थित चुरारी डांग, डुमरिया, सिर्रोद गांव आदि क्षेत्र के पहाड़ों पर इन दिनों झाड़बेर लगने से स्थानीय निवासियों के लिए यह रोजगार का साधन बन गया है.

हेम सिंह ने बताया कि झाड़बेर मौसमी फल होने के साथ-साथ किसानों के लिए बिना लागत की फसल भी है. झाड़बेर फसल इनके लिए दो तीन महीने आमदनी का काम करती है. पहाड़ी क्षेत्रों के आस-पास रहने वाले ग्रामीण सुबह सात बजे से झाड़बेर तोड़ने के लिए घरों से निकल जाते हैं. दिन भर में एक व्यक्ति चार से पांच किलो झाड़बेर तोड़ लेता है. इसको वो नजदीकी गांव व शहर के बाजारों में ले जाकर 40 से 50 रुपए की कीमत में बेच कर 300 से लेकर 400 रुपए कमा रहा है.

झाड़बेर औषधीय गुणों से है भरपूर

बता दें कि, झाड़बेर भारत के प्राचीन फलों में से एक है. इसको चीन में सेब कहा जाता है. झाड़बेर का रामायण में भी जिक्र किया गया है. यह फल देश के अलावा चीन, यूरोप और रूस सहित अन्य देशों में भी उगाया जाता है. औषधीय गुणों से भरपूर झाड़बेर में विटामिन सी, ए, और बी, कॉम्प्लेक्स, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, वसा, आयरन और कॉपर, कैल्शियम और फास्फोरस, सोडियम, जिंक, साइट्रिक एसिड आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं.

झाड़बेर कई बीमारियों में रामबाण का काम करता है. हालांकि, इसका उपयोग बिना एक्सपर्ट की सलाह के नहीं करना चाहिए.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

FIRST PUBLISHED : November 24, 2022, 19:05 IST