Connect Movie Review: नयनतारा- अनुपम खेर की ‘कनेक्ट’ में हैं डरावने सीन्स की भरमार, जानिए कैसी है फिल्म

0
34

नयनतारा (Nayanthara) एक बार फिर अपनी तेलुगू फीमेल सेंट्रिक फिल्म कनेक्ट (Connect) के साथ पर्दे पर कमबैक हुई हैं. हॉरर थ्रिलर अश्विन सरवनन (Ashwin Saravanan) द्वारा निर्देशित की गई है और 2 दिसंबर 2022 को रिलीज हुई है. बता दें कि लेडीस्टार की ये पहली ऐसी फिल्म होगी जो हिंदी में भी रिलीज आ रही है. साथ ही इसे तमिल और मलयालम भी दर्शाया जा रहा है. पर्दे पर आने से पहले ही लोग ट्रेलर देख इसे लेकर अपने शानदार रिएक्शन दे रहे थे और नयनतारा के अभिनय को सराह रहे थे. वहीं ‘माया’ और ‘गेम ओवर’ जैसी फिल्मों का निर्देशन कर चुके अश्विन श्रवण के डायरेक्शन की भी तारीफ की जा रही थी. लेकिन क्या वास्तव में ये फिल्म शानदार है और इसमें क्या नया देखने को मिलेगा. आइए जानते हैं इस फिल्म के बारे में और भी बहुत कुछ..

फिल्म की कहानी

फिल्म में नयनतारा सुसान नाम की महिला का किरदार निभाती हैं, जो अपने पति (विनय राय) को कोविड के कारण खो देती हैं. यह सभी को परेशान करता है और खास तौर से सुसान की बेटी अन्ना पिता के खो जाने से बेहद अकेला महसूस करती है. वो एक बाहरी ताकत की मदद से अपने पिता की आत्मा से बात करने की कोशिश करती है. लेकिन घटनाओं के एक दुखद मोड़ में, एक अज्ञात आत्मा उसमें प्रवेश करती है और परिवार में कहर ढाती है. ऐसे हालत में एक असहाय सुसान कैसे निपटेगी? वो किसकी मदद लेती है, यही फिल्म की कहानी का सार है जो दर्शकों को अंत तक बाधें रखती है.

कनेक्ट के प्लस पॉइंट्स

फिल्म को बेहतरीन तरीके से फिल्माया गया है और सिर्फ दो कमरों में बनती है लेकिन काफी अच्छे से पेश किया गया है. फिल्म के क्लाइमेक्स वाले हिस्से को शानदार तरीके से हैंडल किया गया है और जिन दृश्यों में आत्मा शरीर छोड़ती है उन्हें अच्छे तरीके से दिखाया गया है. अन्ना की भूमिका निभाने वाली लड़की अपना 100 फीसदी देती है और दर्शकों को बांधे रखती है. पुजारी के रूप में अनुपम खेर (Anupam Kher) अपने प्रदर्शन से फिल्म में गहराई लाते हैं. विनय राय (Vinay Rai) अपनी छोटी सी भूमिका में ही परफेक्ट हैं. सत्यराज साफ-सुथरे हैं, लेकिन फिल्म के बाद के हिस्से में वो बहुत हंसते हैं. इस फिल्म में नयनतारा ने शानदार काम किया है. उनके लिए अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए कनेक्ट से बेहतर कुछ भी नहीं और ये फिल्म उनके अभिनय की वजह से देखने योग्य बनती है.

माइनस प्वाइंट

विग्नेश शिवन (Vignesh Shivan) ने फिल्म का निर्माण किया और यह समझना मुश्किल है कि कहानी में उन्हें क्या नयापन मिला. एक लड़की के शरीर में एक दुष्ट आत्मा का प्रवेश और उसकी मदद के लिए एक पुजारी का आना, बचपन से ही दिखाया गया है. फिल्म में बहुत सारे तार्किक मुद्दे हैं, जैसे एक लड़की अपने पिता की आत्मा से बात करने का फैसला क्यों करती है, जिसकी आत्मा वास्तव में उसके शरीर में प्रवेश करती है. फिर पीछे की कहानी क्या है, यह फिल्म में ठीक से नहीं बताया गया है. यह कमोबेश एक शॉर्ट फिल्म की तरह है जिसमें छोटे सीन्स में बयां करने की कोशिश की गई है लेकिन ऐसे में कई चीजें पीछे छूट जाती हैं. इमोशन की बात करें तो रिश्तों में ज्यादा गहराई नहीं होती है. अपनी बेटी के नर्क में जाने से परेशान मां को अच्छे से नहीं दिखाया गया है. कुछ रोमांच को छोड़ दें तो फिल्म में कुछ भी नया नहीं है.

तकनीकी पहलू

चूंकि फिल्म को केवल दो कमरों में शूट किया गया है इसलिए कैमरावर्क को टॉप लेवल पर होना चाहिए. बीजीएम (Background music) और अधिक इफेक्टिव हो सकता था. तेलुगू डबिंग ठीक है और प्रोडक्शन वैल्यू भी ठीक है. निर्देशक अश्विन सरवनन (Director Ashwin Saravanan) की बात करें तो उनकी आखिरी फिल्म गेम ओवर (Game Over) काफी अच्छी थी लेकिन इस फिल्म के साथ उन्होंने एक विषय चुना, नयनतारा जैसे स्टार को जोड़ा और डेढ़ घंटे की फिल्म बनाई और इसे उन दर्शकों को बेच दिया जो उनके विजन को पसंद नहीं करते. आम तौर पर थ्रिलर आपको यह जानने के लिए बांधे रखते हैं कि आत्मा के पीछे क्या रहस्य है. लेकिन कनेक्ट में ऐसा कुछ नहीं दिखता. कुल मिलाकर निर्देशक अश्विन क्वारंटाइन के दिनों को डिवाइट करते हैं और रोमांच दिखाते हैं. लेकिन घबराहट के इतने सीन्स दर्शकों को परेशान कर आधे रास्ते में ही काट दिए जाते हैं.

कैसी है फिल्म?

कुल मिलाकर देखा जाए तो नयनतारा की कनेक्ट खराब तरीके से बनाई गई हॉरर थ्रिलर है जिसमें दिखाने के लिए कुछ भी नया नहीं है. क्लाइमेक्स अच्छा है और नयनतारा का परफोर्मेंस भी काबिल-ए-तारीफ है, लेकिन बाकी ये पूरी कहानी को सुस्त बनाती है. फिल्म का कंटेंट बहुत वीक है जिसे बेहतर तरीके से पेश किया जा सकता था.

Tags: Nayanthara, South Movies, South Movies in Hindi, Vignesh shivan