Haldwani: अपराध सुलझाने में ‘तीसरी आंख’ बनी पुलिस की मददगार, अब शहर में 250 और CCTV लगेंगे

0
14

रिपोर्ट: पवन सिंह कुंवर

हल्द्वानी. उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल के प्रवेश द्वार हल्द्वानी में हाल ही हुई अपराध की घटनाओं ने सबको हैरत में डाल दिया. शांत रहने वाला शहर अचानक से दहल उठा. अपराध की इन बढ़ती घटनाओं को देखते हुए नैनीताल जिला पुलिस अब सख्त कदम उठा रही है. एसपी सिटी देर रात तक खुद चेकिंग अभियान की अगुवाई कर रहे हैं, तो वहीं पुलिस ने अब शहर में करीब 250 और सीसीटीवी लगाने का फैसला किया है. दरअसल शहर में वर्तमान में लगे सीसीटीवी कैमरे अपराध के मामले सुलझाने में पुलिस की काफी मदद कर रहे हैं.

नैनीताल पुलिस हल्द्वानी द्वारा करीब 250 और सीसीटीवी कैमरे शहर के सभी प्रमुख चौराहों पर लगाए जाएंगे. इन जगहों पर लोगों की आवाजाही सबसे ज्यादा रहती है. वहीं ये ऐसे इलाके हैं, जहां से शहर से गुजरने वाले सभी लोगों पर नजर रखी जा सकती है.

नैनीताल के एसएसपी पंकज भट्ट ने बताया कि पिछली कुछ घटनाओं को सुलझाने में सीसीटीवी कैमरे सबसे ज्यादा मददगार साबित हुए हैं. हल्द्वानी के कई चौराहों पर कैमरे लगे हुए हैं और अब पुलिस 250 और कैमरे लगाने जा रही है, जिससे पुलिस 24 घंटे शहर की निगरानी कर सकेगी. पुलिस लगातार शहर में बढ़ती अपराध की घटनाओं को रोकने के लिए अलग-अलग अभियान भी चला रही है. एसएसपी ने जनता से अपील करते हुए कहा कि सभी लोग अपने-अपने घरों में भी सीसीटीवी कैमरे लगाएं.

बताते चलें कि 2 नवंबर को हल्द्वानी के सर्राफा कारोबारी राजीव वर्मा पर दो बाइक सवारों ने गोली चलाई थी. इस घटना में वह बाल-बाल बच गए. राजीव की कार पर फायरिंग करते हुए हमलावर सीसीटीवी में कैद हो गए. वहीं, 3 नवंबर को मुखानी थाना क्षेत्र में एक पुलिसकर्मी की पत्नी की दिनदहाड़े हत्या से सनसनी फैल गई. सैकड़ों सीसीटीवी कैमरों की मदद से पुलिस आरोपी तक पहुंचने में कामयाब हो गई. आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. जबकि 8 नवंबर को मोतीनगर इलाके के एक आश्रम में एक कुष्ठ रोगी की दूसरे रोगी ने लाठी-डंडे से पीटकर हत्या कर दी थी.

Tags: CCTV, Haldwani news, Uttarakhand Police, क्राइम