OMG! MP के इस जिले में एक दिन में 13 साइबर फ्रॉड… नौकरी, शादी जैसे झांसे, जानें कैसे जाल में फंसाते हैं ठग

0
15

रिपोर्टर – चितरंजन नेरकर

बालाघाट. ज़िले के लोगों पर साइबर ठगों की पैनी नज़र है या यूं कहें कि यहां के लोग साइबर अपराधियों का आसान शिकार बन रहे हैं. इसका अंदाज़ा आप ऐसे लगा सकते हैं कि सोमवार को एक ही दिन में सुबह से लेकर देर शाम तक 13 लोग साइबर ठगी के शिकार हुए. जिन 13 लोगों से लाखों की ठगी की गई है, उन्हें अलग अलग तरीके से जाल में फंसाया गया. ठगों ने किसी के खाते से छोटी तो किसी के खाते से बड़ी रकम उड़ा ली. कोतवाली थाना प्रभारी कमल सिंह गहलोत ने 13 ऐसे मामलों की जांच की बात करते हुए कहा जागरूक होना ज़रूरी है.

कोतवाली स्थित साइबर शाखा में सोमवार को ऑनलाइन ठगी की 13 शिकायतें आईं. पीड़ितों के खातों से कुल 4 लाख 81 हजार रुपये की ठगी हुई. इसके अलावा दो शिकायतें कॉल करके परेशान करने और फेक आईडी बनाकर अश्लील मैसेज करने की भी मिलीं. ये किस तरह के मामले रहे, एक नज़र देखें ताकि आप सतर्क रह सकें.

आपके शहर से (बालाघाट)

मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश

एमेज़ॉन में जॉब का ऑफर देकर 81000 ठगे

बालाघाट निवासी निखिल ने शिकायत दर्ज कराई कि उसे टेलीग्राम पर एमेज़ॉन मॉल ऑनलाइन वर्क के नाम के ग्रुप से एक लिंक भेजा गया था और उस पर क्लिक करने के बाद निखिल को जॉब ऑफर किया गया. जॉब के लिए रजिस्ट्रेशन फीस जमा करने कहा गया. पहले 2000 रुपये और फिर 1000 रुपये मंगाए गए और कहा गया कि ये वापस कर दिए जाएंगे. निखिल के खाते से पांच ट्रांज़ैक्शन हुए और देखते ही देखते 81,000 रुपये खाते से निकल गए. ठगों द्वारा बाद में 90,000 की डिमांड की गई.

सहेली का पति बनकर पार किए 63000

स्वर्णलता ने शिकायत दर्ज करवाई ‘दो दिन पहले कॉल आया था, वह शख्स अपने आप को मेरी सहेली का पति बता रहा था. बातों में उलझाकर मुझे पहचान वालों के नाम बताने लगा, तो मैंने उस पर विश्वास कर लिया. फिर कॉलर ने कहा कि उसके खाते में 5 हजार रुपये ट्रांसफर नहीं हो रहे हैं और उसने मुझसे बैंक डिटेल्स मांगे. उसके बाद उसने मुझे मेरे फोन पर एक लिंक भेजी. जैसे ही, मैंने लिंक पर क्लिक किया, मेरे खाते से 63,000 रुपये पार हो गए.’

फेक आईडी से युवती को भेजे अश्लील मैसेज

फेक आईडी बनाकर युवती को अश्लील मैसेज करने की शिकायत युवती के भाई ने पुलिस से की है. शिकायत के मुताबिक आरोपी द्वारा युवती के फोटो को गलत तरीके से इस्तेमाल करके अश्लील मैसेज भेजे गए. साथ ही बार बार कॉल करके परेशान किया जा रहा था.

इसके अलावा, वारासिवनी के रहने वाले महेश कुमार ने शादी के नाम पर एक वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करवाने के बारे में बताते हुए आरोप लगाया कि उनके साथ शादी कराने के नाम पर ठगी हुई. गहलोत का कहना है कि इन सभी मामलों की जांच साइबर शाखा द्वारा की जा रही है. साथ ही, उन्होंने सलाह देते हुए अपील की है कि किसी भी अनजान या अविश्वसनीय व्यक्ति पर भरोसा न करें और कोई भी ऑनलाइन ट्रांज़ैक्शन करते हुए सतर्क रहें. किसी भी लुभावनी या अनावश्यक लिंक को बगैर जांचे परखे क्लिक न करें.

Tags: Mp news, Online fraud